संचालक की कलम से

                                                                                   

छत्तीसगढ़ प्रशासन अकादमी के प्रदेश के शीर्ष प्रशिक्षण संस्था है जो कि अगस्त 2004 से क्रियाशील है।अकादमी में छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग से चयनित विभिन्न विभागों के अधिकारियों के लिए आधारभूत एवं परिचयात्मक प्रशिक्षण के साथ-साथ विभिन्न विभागों के अधिकारियों के लिए अलग-अलग विषयों पर अल्पकालीन प्रशिक्षण आयोजित किए जाते हैं।इसके अतिरिक्त भारतीय प्रशासनिक सेवा के छत्तीसगढ़ कैडर के परीविक्षाधीन अधिकारियों तथा राज्य के नव चयनित सिविल सेवा के अधिकारियों का प्रशिक्षण भी अकादमी द्वारा आयोजित किया जाता है। अकादमी में भारत सरकार कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग, आपदा प्रबंधन विभाग तथा अन्य विभागों / संस्थानों के सहयोग से भी प्रशिक्षण आयोजित किये जाते हैं। 

      प्रशासन अकादमी द्वारा राज्य शासन की प्रशिक्षण नीति के निर्माण का कार्य किया गया हैं साथ ही अकादमी द्वारा विभिन्न विभागों / संस्थाओं की प्रशिक्षण आवश्यकताओं का आकलन(TNA) तथा प्रशिक्षण कार्यक्रमों के मूल्यांकन में भी सहयोग किया जाता है। 

      प्रशिक्षण के अतिरिक्त अकादमी का उद्देश्य प्रशासन एवं क्रियान्वयन के क्षेत्र में अनुसंधान एवं प्रसार (Research & Extension) का कार्य भी है ।इस हेतु विभिन्न राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय परियोजनाओं के अंतर्गत कार्यवाही प्रचलन में है।

      छत्तीसगढ़ प्रशासन अकादमी के अंतर्गत आपदा प्रबंधन प्रशिक्षण संस्थान भी संचालित है जिसके द्वारा राज्य तथा केन्द्र शासन के आपदा प्रबंधन विभागों से समन्वय कर आपदा से संबंधित विषयों पर प्रशिक्षण आयोजित किये जाते हैं। अकादमी में ही संचालित वित्तीय प्रबंधन प्रशिक्षण संस्थान द्वारा वित्त एवं लेखा से संबंधित समस्त विषयों में विभिन्न विभागों के अधिकारियों हेतु प्रशिक्षण आयोजित किये जाते हैं। इसके अतिरिक्त संस्थान का कार्य राज्य शासन के वित्तीय प्रबंधन को सुदृढ़ करने में सलाह देना भी है।

      इसके अतिरिक्त छत्तीसगढ़ प्रशासन अकादमी एवं चिप्स (छ.ग. बायोटेक एवं इंफोटेक प्रमोशन सोसाइटी) के द्वारा संयुक्त रूप से कम्प्यूटर तथा इर्वनेस प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना की जा रही है जिसमें राज्य शासन के सभी वर्गों के अधिकारियों कर्मचारियों को कम्प्यूटर की विभिन्न विधाओं तथा र्इ-गर्वनेस इनीशिऐटिव पर प्रशिक्षण दिया जायेगा।

      केन्द्र शासन की प्रशिक्षण नीति एवं राज्य शासन की मंशा के अनुरूप छत्तीसगढ़ प्रशासन अकादमी समस्त उपलब्ध संसाधनों के सहयोग से राज्य शासन के कर्मियों के क्षमता विकास हेतु विभिन्न प्रशिक्षणों एवं अन्य क्रियाकलापों के माध्यम से सतत रूप से संलग्न है।